SIT Full Form | SIT क्या है? कैसे काम करती है ?

SIT Full Form : हेलो दोस्तों कैसे हो आप सभी आज की इस पोस्ट में हम बात करने वाले हैं SIT के बारे में।  दोस्तों इंटरनेट पर इसके बारे में बहुत सर्च किया जाता है। यह बहुत ही जरूरी टॉपिक है इसके बारे में आपको जरूर पता होना चाहिए कि SIT क्या है? यदि आप अभी तक इसके बारे में नहीं जानते हैं तो कोई बात नहीं। आज हम आपको यहां पर इसकी पूरी जानकारी देने वाले हैं। आप इस पोस्ट को कृपया जरूर पढ़ें यह आपके बहुत काम आने वाला है। 

SIT Full Form  SIT क्या है कैसे काम करती है

यदि आप भी इंटरनेट पर एसआईटी के बारे में सच कह रहे हैं और आपको इसकी जानकारी अच्छे से नहीं मिल पा रही तो कोई बात नहीं। आज हम आपको विस्तार पूर्वक SIT क्या है? SIT Full Form और  के बारे में बताएंगे। दोस्तों आपको बता दूं यह एक कानून है जिसे मुजरिम को दंडित करने के लिए बनाया गया है। इसमें इंसाफ बहुत ही जल्दी किया जाता है। 

SIT Full Form | SIT क्या है? कैसे काम करती है ?

दोस्तों एसआईटी का गठन 1984 में किया गया था जब सिखों का दंगा हुआ था। सुप्रीम कोर्ट आमतौर पर बड़े के सिर में एसआईटी का गठन करता है। जिससे जब उसे लगता है कि सरकारी अधिकारियों ने पूरा न्याय नहीं किया है तो उसे SIT इन्वेस्टिगेट करती है। दोस्तों एसआईटी एक ऐसी टीम होती है जो निष्पक्ष निर्णय लेती है। यह टीम जब काम करती है तो ऐसे ऐसे सबूत भी मिलते हैं जिन्हें कोई भी पुलिसकर्मी अभी तक खोज नहीं पाया। लेकिन एसआई की टीम सभी बहनों को अच्छे से स्टडी करके उन्हें खंगाल कर रख देती है। 


आपको बता दें एसआईटी में भी एक जज और कुछ स्पेशलिस्ट लोग रखे जाते हैं जो कभी भी किसी भी बड़े लोग पर इन्वेस्टिगेशन कर सकते हैं। उन पर किसी तरह की रोक रोक नहीं लगाई जा सकती है। इन्वेस्टिगेट करने के लिए कुछ भी कर सकती है और उन्हें कोई भी नहीं रोक सकता है। पिछले कुछ सालों से सुप्रीम कोर्ट ने भी कई केसेज में एसआईटी का गठन किया है। 

SIT Full Form क्या है ? SIT क्या है? 

आप सभी भी इंटरनेट पर काफी लंबे समय से यह सर्च कर रही होंगी कि एसआईटी की फुल फॉर्म आखिर है क्या। आपको बता दें इंटरनेट पर कई तरह की वेबसाइट पर कई तरह की फुल फॉर्म बताई जाती है। उन पर विश्वास करने से पहले और मैं साइट्स पर भी विजिट कर ले ताकि यह कंफर्म हो जाएगी इसकी फुल फॉर्म यही है। अभी हम आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर एसआईटी की असल में फुल फॉर्म है क्या। 

SIT Full Form - Special Investigation Team

जी हां SIT Full Form स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम है। न्यायपालिका द्वारा एसआईटी का गठन तब किया जाता है यदि उन्हें लगता है कि किसी को अच्छे से न्याय नहीं मिल पाया। या फिर उसके से संबंधित कुछ कमियां पाई जाती है तो उसके लिए एसआईटी का गठन किया जाता है। 

SIT कैसे काम करता है

अब बात आती है कि एसआईटी आखिर काम करता कैसे हैं। आपको बता दें सुप्रीम को या राज्य सरकार द्वारा विशेष जांच दल यानी कि एसआईटी नियुक्त किया जाता है। SIT  का नेतृत्व एक व्यक्ति करता है यह उस मामले की जांच करता है जिसके लिए उस का गठन किया जाता है फिर वोट की अदालत में एक रिपोर्ट पेश करता है। रिपोर्ट अपील की सभी चरणों में छानबीन करती है। अदालत उस रिपोर्ट को एक्सेप्ट या फिर रिजेक्ट करने का अधिकार रखती है। यदि अदालत उस रिपोर्ट को खारिज कर देता है तो अदालत उस केस का एकमात्र ऐसा विकल्प बचा है जो कुछ भी निर्णय ले सकता है।  

SIT का गठन किन मामलों में हो सकता है 

आपको बता दें इस टीम का गठन कभी भी किसी भी किसके लिए किया जा सकता है। उदाहरण के लिए यदि अदालत को लगता है कि जोके केस चल रहा है। उसमें सबूत पर्याप्त नहीं है या फिर उस केस में किसी तरह की कमी पाई जाती है तो अदालत द्वारा एसआईटी का गठन किसी भी केस के लिए किया जा सकता है। जैसे कि रेप केस, आतंकवादी वारदात, मर्डर इत्यादि। 

Last Word

दोस्तों उम्मीद करता हूं कि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी जरूर पसंद आती होगी। और यह जानकारी आपके काम भी आती होगी यदि आप एक स्टूडेंट हो तो यह जानकारी आपके लिए जरूरी है। आपको हमारी आज की और पोस्ट कैसी लगी। यदि आपको आज की जो SIT Full Form | SIT क्या है? कैसे काम करती है ? पसंद आई है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। ताकि उन्हें भी पता चल सके कि एसआईटी आखिर असल में क्या होता है। धन्यबाद !

No comments:

Powered by Blogger.